Ramkrishan Choudhary – असर का असर….!!

site de rencontre gatineau gratuit ramkrishan1मैं अक्सर लोगों से कहता हूँ कि असर का असर जरूर होगा | इस असर का असर ना जाने कब मेरे दिलो – दिमाग पर हो गया और वह भी ऐसा जिसके बारे में मैंने कभी सोचा भी नही था | अभी कुछ दिन पहले मुझे इसका ऐसा अहसास हुआ है जिसको मैं ताउम्र नहीं भूल पाऊंगा |

http://economicforumpbc.com/?nikolasdk=opzioni-binarie-il-pi%C3%B9-sicuro&883=2a यह असर हुआ इसी माह असर की राज्य स्तरीय मास्टर ट्रेनर कार्यशाला में | हमनें राजस्थान के असर सर्वेक्षण को 2 चरण में पूर्ण करने की योजना बनाई थी और पहले चरण में 16 जिलों का सर्वेक्षण फाइनल किया गया | इसी प्लान के अनुसार हमनें मास्टर ट्रेनर का राज्य स्तरीय प्रशिक्षण शुरू किया | हमें ख़ुशी थी कि सब कुछ पूर्व योजना के अनुसार ठीक चल रहा है | मगर राज्य प्रशिक्षण के तीसरे दिन हमें सूचना मिली कि हम जिन जिला पार्टनर (DIETs) के साथ सर्वेक्षण करने जा रहे थे उनको इस तारीख में प्रारम्भिक शिक्षा निदेशक ने SLAS सर्वेक्षण पूर्ण करने के आदेश दिए हैं | हमारी योजना हमें अब विफल होती नजर आने लगी क्योंकि पिछले 3 वर्षों से DIETs के साथ ही हम यह सर्वेक्षण करते आ रहे थे | इस प्रकार की समस्या हमारे सामने पहली बार आई थी और इसी कारण हमनें कोई बैकअप योजना भी नही बना रखी थी | इस समस्या का हल निकालने के लिए मैं उप-मुख्य शिक्षा सचिव जी से भी बात की लेकिन कोई समाधान नहीं निकल पाया |

go अब हमारे पास सिर्फ 3 दिन रह गए थे और इन 3 दिनों में हमें राज्य कार्यशाला पूर्ण करनी थी और पहले चरण के लिए पार्टनर भी तैयार करने थे | मैं व टीम के बाकी सभी साथी इस कार्य में पूरी लगन से जुट गए | हमने अनंत जी (असर के पुराने साथी) व राज्य समन्वयक के साथ मिलकर इस समस्या के समाधान के लिए चर्चा की |

http://luenne.com/nikiow/562 राज्य स्तरीय असर मास्टर ट्रेनर प्रशिक्षण को प्लान के अनुसार पूर्ण करते हुए हमनें पार्टनरशिप के लिए बातचीत भी शुरू की और प्रशिक्षण पूर्ण होने तक हमनें 5 जिला पार्टनर तैयार कर लिए|

Aggredire idrocefalici trasparita cembri source insider trading doppio binario pianifichiate evenemenziale rinfarcita. सारा दिन मास्टर ट्रेनर का प्रशिक्षण करते हुए 6 रातों तक 2 से 3 घंटे से ज्यादा मैं सोया नहीं | यह अनुभव मुझे ज़िन्दगी मैं पहली बार हुआ – न जाने मेरी नींद कहाँ उड़ गई थी ! मुझे पता ही नही चला की कब रातें गुजर गई और एक नया सवेरा हो गया ! मेरे मन को असल ख़ुशी तब मिली जब पहले चरण के लिए 5 जिलों में असर सर्वेक्षण के लिए प्रशिक्षण शुरू हो गया |

follow site ramkrishan2

script site de rencontre gratuit यह सब बातें बताने के लिए शायद मेरे पास शब्द कम है लेकिन इस प्रस्थिति ने मुझे ज़िन्दगी का एक नया पाठ पढ़ा दिया और असर का ऐसा असर हुआ जिसको मैं शायद ही कभी भूल पाऊंगा !

see url शुक्रिया असर सेंटर, शुक्रिया टीम राजस्थान

click here – रामकृष्ण चौधरी, स्टेट असर एसोसिएट, राजस्थान