Sunil Kumar – “असर के सफर का असर ”

img_7794असर सेंटर में “असर 2010” मेरा असर का पहला साल था | हालांकि इसके पहले भी मुझे असर सर्वे करने का मौका मिला था | पर असर 2010 मेरे लिए कुछ मायनो में बहुत ही ख़ास था जैसे नए-नए लोगो से मिलना, अन्य स्थान पर जाना  तथा परिस्थितियों पर स्वयं निर्णय लेना आदि |

उत्तर प्रदेश भारत का सबसे बड़ा राज्य है जहाँ  हर साल लगभग  70  जिलों  का सर्वे होता रहा है | अगर आप सहारनपुर से बलिया जाने के लिए ट्रेन से सफ़र करते है तो आपको लगभग 1000 KM दूरी तय करनी पड़ेगी | पूर्वांचल, बुन्देखंड तथा पश्चिमी उत्तर परदेश के बोल-चाल, रहन सहन, पढाई-लिखाई में विविधता देखने को मिलेगी | इतने बड़े राज्य में असर सर्वे करवाना हमेशा चुनौती पूर्ण कार्य रहा है | इन चुनौतियों का सामना करने में हमेशा यहाँ ग़ाव में रहने वाले बच्चें ,अध्यापक, सरपंच, कालेज, तथा ग़ाव के लोगो का भरपूर साथ मिलता रहा है | साथ ही साथ हमारे उन सभी सीनियर साथियों का अथक सहयोग रहा है जिनके बिना असर का सफर आसान नहीं था |  मैं इन सभी को बहुत – बहुत धन्यवाद देना चाहता हूँ अन्यथा भारत के नागरिकों द्वारा किया जाने वाला भारत का यह सबसे बड़ा सर्वे शायद सफ़ल नहीं हो पाता |

यह वही लोग है जिनके सहयोग से असर ने अपना सुनहरा सपना “10 साल” पूरा किया तथा अपने परिणामों से सरकार, अभिभावक अन्य संगठनों को आईना दिखाते हुए भारत के भविष्य अर्थात बच्चों की पढाई-लिखाई के बारे में सोचने के लिए मजबूर कर दिया | सरकार आती है चली जाती है, नीतियां बनती है पूरी हो जाती है पर क्या बच्चे स्कूलों में सीखते है – यह आईना दिखाता है भारत के नागरिकों का अपना असर | जमीनी हकीकत को दिखाता इस असर की आलोचना करने वाले भी मिले, साथ ही साथ समर्थन करने वाले भी मिले पर हमें पता था असर का यह रास्ता कठिन है | लोग मिलते गए असर का सफर आसन होता गया |

skअसर की इस यात्रा में मुझे अलग-अलग, अनेको अनुभव प्राप्त हुए जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से मुझें प्रोत्साहित करते रहे  | यहाँ कुछ अनुभब को साझा करने का प्रयास कर रहा हूं |वाराणसी जिले में एक ग़ाव जो दो साल लगातार सर्वे में शामिल रहा और उस ग़ाव का एक “चयनित घर” जो कि दोनों साल सर्वे में शामिल था के बच्चों का रीचेक करने का मौका मिला | मुझे तो याद नहीं था पर जैसे ही घर में पंहुचा तो बच्चें तथा घर के लोग पहचान गए |

घर के मुखिया- अरे भाई आप एक बार और आये थे पर आप तभी आते है जब सर्वे समाप्त हो जाता है आज पुनः आप आ गए | कहा चले जाते है | हमने सोचा था आप पुनः आयेगे पर आये नहीं |

मैं – भाई कैसे बताऊँ कई और काम में व्यस्त हो जाता हूँ | पर हमें आप लोगों से मिल कर ख़ुशी हुई  और आप पहचान गए यही तो असर का असर है अन्यथा लम्बे समय के बाद कौन पहचानता है |

घर के मुखिया – आप को याद भी होगा कि मेरा आप से इस बात पर बहस हुआ था कि इतना आसन सवाल आप बड़े बच्चों से क्यों पूछते हो | यह तो सब कर सकते है | आपने मेरे बड़े लड़के की भी जाँच की थी जो भाग का सवाल नहीं हल कर पाया था जबकि वह 72% अंक से 12वी पास किया था  | मैं कैसे भूल सकता हूँ ? मैं तो समझता था कि यह तो अच्छे मार्क से पास है, इसे तो सब पता ही होगा | उस दिन का असर मेरे ऊपर असर कर गया था और अब तो मैं अपने घर के सभी  बच्चों की पढाई-लिखाई को लेकर बहुत ही चौकन्ना रहता हू |

72% मार्क से 12वी पास बच्चें का आसान भाग का सवाल हल न कर पाना शिक्षा तंत्र के लिए प्रश्न खड़ा कर गया था | मुझे घर के लोगों का उसी तरह पुनः सहयोग मिलना मेरे लिए ख़ास था |

एक और अनुभव साझा करना चाहता हूँ | उत्तर प्रदेश का सहारनपुर जिला जो अपने आप में लकड़ी के काम के लिए ख्याति प्राप्त है | मैं असर 2012 के दौरान लखनऊ से चलकर सुबह 7 बजे सहारनपुर रेलवे स्टेशन पहुंचा | जिले की चयनित संस्था के सचिव को फ़ोन मिलाना शुरू करते है | संस्था के हेड का फ़ोन बंद मिलता है और यह फ़ोन लगातार २ दिनों तक बंद रहा | मैं तो बहुत ही परेशान था (भाई परेशान तो होना ही था क्योंकि कम समय में सर्वे तथा रिपोर्ट जारी करने की जो हमारी खासियत रही है) यह सोच रहा था अब क्या करें ? तीसरे दिन मेरी मुलाकात चाय के दुकान पर   एक संज्जन से हुई  |

संज्जन – आप तो बिहार के लगते हो, यहाँ क्या कर रहे है ?

मै –“नहीं सर मैं तो उत्तर प्रदेश का ही हूँ | एक काम के लिए यहाँ आया हूं पर जिनके यहाँ आया था उनका फ़ोन बंद है, बात नहीं हो पा  रही है” |

संज्जन – अच्छा बताओ क्या काम है ?

मैं – असर सर्वे योजना को उनके साथ साझा किया | असर सर्वे की खासियत सुन कर वे तुरंत सर्वे में सहयोग करने का वादा कर दिए  पर क़ब  से शुरू होगा यह सुनिश्चित नहीं हो पाया |

अगले दिन सुबह 6 बजे मेरे फ़ोन की घंटी बजती है तथा सूचना मिलती है कि आप को 9 बजे ट्रेनिग सेंटर पहुचना है और यह आवाज़ उन्हीं सज्जन की थी जो एक दिन पहले मिले थे |

मैं अवाक रह गया ! ‘ऐसे कैसे अचानक ट्रेनिंग में जाना है’, मैंने अपने साथी मास्टर ट्रेनर को बोला |

ट्रेनिंग हॉल का दृश्य – ट्रेनिंग हाल में लगभग 35 लोगो बैठे हैं तथा आपस में बातचीत कर रहे हैं | अब क्या होना है किसी को कुछ भी नहीं पता | पार्टनर ने पहला  सत्र अपनी संस्था का परिचय देते हुए असर के महत्व को बताना शुरू किया | ट्रेनिग हॉल में सन्नाटा पसर गया तथा लोग उनकी बातो को बड़े ध्यान से सुन रहे थे | पार्टनर के द्वारा लिया गया यह सत्र इतना मोटिवेशन भरा था कि लोगो ने एक स्वर में बोला कि हमें तो यह सर्वे करना है इसके लिए आप पैसे दे या न दे पर हमें करना ही है | अगले तीन दिन तक ट्रेनिंग हाल प्रतिभागियों से भरा रहा और लोंगो ने बड़ी ईमानदारी के साथ बेहतरीन सर्वे किया|पार्टनर ने ट्रेनिंग और सर्वे का धनराशी  ख़ुद अपने पास से दिया | हालांकि निर्धारित सर्वे का धनराशी असर सेंटर के द्वारा कुछ दिन के बाद पार्टनर को भुगतान किया गया |

बातोँ-बातोँ में एक  दिन मैंने पार्टनर से पूछा आप अचानक इतना विश्वास करते हुए कैसे यह सब कर दिए  |

पार्टनर ने जबाब दिया, सर, सामने वाले का अगर उदेश्य तथा नियत सही हो तो काम में विश्वास तो करना ही पड़ता है | वैसे भी हमारी जिले के बच्चों की पढ़ने लिखने की स्थिति क्या है यह यहाँ के लोगो को भी जानना जरुरी है | समाज में ऐसे बहुत ही सारे लोग उपलब्ध है जो कुछ करना चाहते है पर सही व्यक्ति तथा सही समय का चुनाव नहीं कर पाते | हमें ऐसे लोगो से मिलना बहुत जरुरी है ताकि उन्हे  कुछ काम करने का मौका मिले | इसके साथ-साथ आप की संस्था के साथ मेरे संस्था का नाम जुड़ना भी मेरे लिए काफी महत्वपूर्ण था |

ऐसे बहुत से अनुभव हमें इस असर के सफ़र में मिले जो सफ़र को आसन बनाने की प्रेरणा देते रहे है |

Sunil Kumar

ASER Team, UP

441 thoughts on “Sunil Kumar – “असर के सफर का असर ””

  1. M.E.C Mon Electricien Catalan
    44 Rue Henry de Turenne
    66100 Perpignan
    0651212596

    Electricien Perpignan

    I always used to read paragraph in news papers but now as
    I am a user of internet thus from now I am using net for content,
    thanks to web.

  2. Independance Immobilière – Agence Dakar Sénégal
    Av. Fadiga, Immeuble Lahad Mbacké
    BP 2975 Dakar
    +221 33 823 39 30

    Agence Immobilière Dakar

    After exploring a handful of the articles on your web page, I seriously appreciate your technique of writing a blog.
    I book-marked it to my bookmark site list and will be checking
    back soon. Take a look at my website as well and tell me
    how you feel.

  3. Taxi moto line
    128 Rue la Boétie
    75008 Paris
    +33 6 51 612 712  

    Taxi moto paris

    Ahaa, its good conversation on the topic of this post here at this webpage, I have read all that, so at this time me also commenting at this place.

  4. Excellent post. Keep posting such kind of information on your page.
    Im really impressed by your blog.
    Hey there, You’ve performed an excellent job. I will definitely digg it and personally suggest
    to my friends. I am sure they will be benefited from this site.

  5. Fantastic beat ! I wish to apprentice while
    you amend your web site, how can i subscribe for a blog site?
    The account helped me a acceptable deal. I had been a
    little bit acquainted of this your broadcast provided bright clear concept

  6. It is appropriate time to make some plans for the future and it’s time to be happy.
    I’ve read this post and if I could I desire to suggest you few
    interesting things or tips. Maybe you could write next articles
    referring to this article. I wish to read even more things about
    it!

  7. Hello! I just wanted to ask if you ever have any issues with hackers?
    My last blog (wordpress) was hacked and I ended up losing months of hard work due to no backup.
    Do you have any solutions to prevent hackers?

  8. An impressive share! I’ve just forwarded this onto a friend who had been conducting a little research on this.
    And he actually bought me lunch due to the fact that I discovered
    it for him… lol. So allow me to reword this…. Thanks for the
    meal!! But yeah, thanks for spending some time to discuss this topic here on your blog.

  9. Can you buy erectile dysfunction medication from the counter. viagra canada is at one’s disposal via its official website. Another effect with qualified quick-wittedness among the manly enhancement nutritional supplements against erectile dysfunction (ED) problems. This is a consonant OTC cheap viagra europe buy viagra on line without prescription drag, legal and tested past thousands of users on all sides the exceptional (reporting unusually positive results).

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *